वसंत पंचमी इस वर्ष कब हैं, आरती और इसका महत्त्व क्या हैं (Vasant Panchami Impotance Kab Essay)

हेल्लों दोस्तों नमस्कार आज हम आप को vasant panchami kab essay से जुरे सारी जानकारी देने वाले हैं, क्योकिं आप भी 2021 में वसंत पंचमी का ख़ुशी मनाएं

Advertisement

वसंत पंचमी इस वर्ष कब हैं और इसका महत्त्व (vasant panchami kab essay)

दोस्तों इस वर्ष यानि 2021 में वसंत पंचमी 16 फरवरी को होने वाला हैं, और आप के लिए सबसे अच्छा समय पूजा करने के लिए क्या हैं यह मैं निचे आप को बताने वाला हूँ इस लिए आप निचे जरुर पढ़े

  • इस वर्ष वसंत पंचमी कब हो रहा हैं :-        16 फरवरी को 
  • पूजा करने का अच्छा समय क्या हैं :-         12:26 से 12:41
  • पूजा कितने समय किया जाए :-                 15 मिनट 

वसंत पंचमी का मुख्य पूजा (Main worship of Vasant Panchami)

वसंत पंचमी में मुख्य रूप से सरस्वती देवी की पूजा किया जाता हैं, क्योंकी इन्ही देवी के कारण पृथ्वी पर हम सब सभी मनोरंजन का लाभ उठा पाते हैं, हम सब जो भी पढ़ लिख कर कुछ बन पाते हैं यह सरस्वती माता ही किए कृपा से हो पता हैं.

Advertisement

लेकिन जब तक हम सब अपना कर्म नहीं करते हैं तब तक हमें सरस्वती देवी कुछ फल नहीं देते हैं, इस लिए बिना काम किये कुछ भी नहीं हो सकता हैं

सरस्वती पूजा में लगने वाले सामग्री या समान (Material or similar to that used in Saraswati Puja)

पूजा में निम्नलिखित समान लगता हैं:-

  • अबीर
  • चावल
  • रुई
  • रोली
  • सिन्दूर
  • सुपारी
  • पान के पत्ते
  • पुष्पमाला
  • कुश
  • दूर्वा
  • गंगाजल
  • दूध
  • दही
  • घी
  • शहद
  • इलायची
  • लौंग मौली
  • पेरा
  • सेंत यानि इत्र
  • शिहासन यानि आसन
  • पंच पल्लव भोग लगाने के लिए नैवेध यानि मिष्ठान
  • पंच मेवा

सरस्वती आरती क्या हैं (What is Saraswati Aarti)

आरती कीजै सरस्वती जी की ,

Advertisement

जनन विद्या बुध्दी भक्ति की |

जाकी कृपा कुमति मिट जाये |

सुमिरण करत सुमति गति आये |

Advertisement

शुक सनकादिक जासु गुण गाये |

वाणी रूप अनादी शक्ति की | आरती …

नाम जपत भ्रम छूटी दिए के |

Advertisement

दिव्य दृष्टि शिशु उधर हिय के ,

मिलहिं दर्श पावन सिय पिय के |

उराई सुरभि युग युग कीर्ति की || आरती …

रचित जासु बल वेद पुराणा |

जेते ग्रन्थ रचित जगनाना | आरती …

तालू छन्द स्वर मिश्रित गाना |

जो आधार कवी यति सती की || आरती …

सरस्वती की वीणा वाणी कला जननी की |

आज का दैनिक जागरण न्यूज़ पेपर पीडीएफ में डाउनलोड करें

Leave a comment

Share via
Copy link