Nutrients Their Sources Food 2022 | With Full Best information in Hindi

भोज्य पदार्थो में कार्बोहाइड्रेट , वसाए , प्रोटीन , खनिज , लावन , विटामिन तथा जल आदि अनेक पोषक तत्व होते है | अतः जीवो द्वारा भोज्य पदार्थों से इन पोषक तत्वों को प्राप्त करने की प्रक्रिया को पोषण (Nutrients) कहते है |

पोषक तत्व उनके स्रोत भोजन (Nutrients Their Sources Food) 2022

Other Hindi Newspaper’s

दैनिक जागरण- Click Here

जनसत्ता- Click Here

अमर उजाला- Click Here

राष्ट्रीय सहारा- Click Here

नवभारत टाइम्स- Click Here

राजस्थान पत्रिका- Click Here

प्रभात खबर- Click Here

पंजाब केसरी- Click Here

हरी भूमि- Click Here

दैनिक भास्कर- Click Here

Other English Newspaper’s

Millennium Post – Click Here

Business Line – Click Here

Hindustan Times – Click Here

Times of India – Click Here

Mint Newspaper – Click Here

Free Press Journal – Click Here

Hans India – Click Here

Telegraph Newspaper – Click Here

Economic Times – Click Here

The Pioneer Newspaper – Click Here

Business Standard – Click Here

इनका वर्गीकरण ——–

1.  कार्बोहाइड्रेट (carbohydrates)-

  •  निर्माण –

इनका  निर्माण कार्बोन , हाईड्रोजन , एवं ऑक्सीजन से होता है |

कार्बन – 1

हाईड्रोजन – 2

ऑक्सीजन – 1 

  • कार्बोहाइड्रेट हमें किन किन चीज़े से प्राप्त होती है ?

गन्ना , चुकंदर , खजूर , आदि में काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है | जटील कार्बोहाइड्रेट – आलू,चावल, अरबी,मक्का,तथा साबूदाना, आदि में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है |

  • कार्य —
  1. कार्बोहाइड्रेटसभी जीवों का उर्जा स्रोत है |
  2. ये मंड (STARCH) के रूप में पौधों और ग्लाईकiजन के रूप में जन्तुओ में संचित ईंधन स्रोत है |
  3. ये जंतु में बाह्य कंकाल (Exoskeleton) बनाते है | जैसे काईटिन |
  • हानि (loss)-

कार्बोहाइड्रेट आवश्यकता से अधिक हो जय तो मोटापा बढ़ जाता है |

2. वसाए (fats) – 

निर्माण –

इनका निर्माण कार्बोन , हाईड्रोजन एवं ऑक्सीजन से होता है | लेकिन इनमे ऑक्सीजन की मात्रा बहुत कम होता है | जीवों के शरीर में अतिरिक्त भोजन वसा के रूप में संचित होता है | ये कार्बनिक घोलक में घुलनशील तथा जल में अघुलन शील होते है |

  • वसा हमें किन – किन चीजों से प्राप्त होती है ?

जन्तुओ से वसा हमें -(nutrients their sources food)

माखन , पनीर , दूध , घी, चर्बी आदि रूप में हमें वसा जन्तुओ से प्राप्त होते है | 

पादपों /वनस्पतियों से – 

नारियल , बादाम, मूंगफली , सरसों , तिल , आदि से हमें वसा प्राप्त होती है |

वसा का कार्य –

  1. वसा ऊर्जा उत्पादन के प्रमुख श्रोत है |
  2. ये भोजन के रूप में संचित रहती है |
  3. शरीर को आकृति तथा सुरक्षा प्रदान करती है |
  4. ये विटामिन A, D, E, K, लिए विलायक का कार्य करती है |
  • मोटापा से हानि (LOSS) –

ह्रदय रोग , रक्तचाप,और पिताश्य में पथरी |

3. प्रोटीन्स (PROTEINS) — (nutrients their sources food)

निर्माण –

प्रोटीन्स का निर्माण कार्बन , हाईड्रोजन और ऑक्सीजन और नाईट्रोज़न से बना होता है | प्रोटीन साजिब शरीर का लगभग 14% भाग बनाती है |प्रोटीन का निर्माण अमीनों अम्ल से होता है | प्रोटीन का एक अनु कई अमीनों अम्लों से मिलकर बना होता है | 

आवश्यक एमिनो अम्ल  ( Essential Amino Acid )–  प्रोटीन का निर्माण करने वाले 20 एमिनो अम्लों में से 10 एमिनो अम्ल भोजन से प्राप्त होता है इनको आवश्यक अमीनों अम्ल कहते है 

अनावश्यक एमिनो अम्ल (non- Essential amino acid )—- शेष 10 अमीनों अम्लों का निर्माण जंतु कोशिका स्वंय करती है | उनको अनावश्यक एमिनो अम्ल कहते है |

  • प्रोटीन हमें किन – किन चीज़े से हमें प्राप्त होती है ?

जन्तुओ से –  मांस , मछली , दूध , अंडा, तथा पनीर  आदि ………से प्राप्त होते है |

वनस्पति जगत – दालों , गेहूं , मूंगफली , बादाम , आदि से प्राप्त होती है |

प्रोटीन का कार्य – (nutrients their sources food)

  1. प्रोटीन शरीर में वृद्धि , निर्माण तथा टूट – फुट की मरम्मत का कार्य करते है |
  2. हीमोग्लोबिन नामक प्रोटीन रक्त परिवहन में ऑक्सीजन का ब्साहन करती है |
  3. ये एन्जाईम्स के रूप में रासायनिक उत्प्रेरको का कार्य करती है |
  4. प्रोटीन रुधिर को  थक्का जमाकर रुधिर श्राव को रोकती है |
  5. प्रोटीन वसा के संस्लेषण का कार्य करती है |

4. विटामिन्स (Vitamins ) – विटामिन्स जटिल कार्बनिक पदार्थ है |जो शरीर की उपापचय क्रियाओ के लिए आवश्यक होते है |और शरीर को प्रतिरक्षा प्रदान करते है विटामिन्स की कमी से अपूर्णता रोग (deficiency diseases) होते है | इन्हें वृधिकारक (Growth factors ) भी कहते है | 

क्या आप ग्रहण के बारे में जानना चाहते है

5. जल और खनिज लावन (water and minerals salts ) – 

  • जल (Water) —– सभी जीवों के शिरिर का लगभग 45-80 % भाग जल है | जल जीवद्रव्य का मुख्य भाग होता है |  जल सार्वत्रिक विलायक (universal solvent ) के रूप में शरीर में होने वाली सभी जैविक क्रियाओं में भाग लेता है | यह शरीर के ताप को नियंत्रित करने तथा पदार्थो के स्थानांतरन में सहायक होता है |
  • खनिज लावन (mineral salts) – हमारे शरीर का लगभग 3-4%  भर खनिज लवणों से बना होता है | जो मुख्यतः कैल्शियम , सोडियम , पोटेशियम , कार्बोनेट्स , सल्फेट्स , आदि होते है |
  • खनिज लावन मुख्यतः किन-किन चीजों में पाए जाते है ?

हरी सब्जियां , फल , अनाज , दूध , मांस , सलाद , एवं नमक होते है |

खनिज लावन का कार्य —

  1. जीवद्रव्य में संवेदनशीलता (irritability) का गुण खनिज लावन के कारन होते है |
  2. खनिज लावन जीवद्रव्य के PH मान को बनाये रखते है |
  3. खानीज लावन हृदय्स्पंदन , तंत्रिका संवहन , पेशी संकुचन आदि में महत्वपूर्ण होते है |
  4. खनिज लवन  अस्थियों , दांतों , रक्तों , आदि के निर्माण में भाग लेते है |
  5. खनिज लवण रक्त स्कंदन (BLOOD CLOTTING) में भाग लेते है | 

आदि …….

………

हमने आपलोगों को इस पोस्ट में पोषक तत्व और उनके वर्गीकरण को विस्तार में बताएं है अगर पसंद आये तो कमेंट और शेयर  न भूलियेगा |

error: Content is protected !!